बादल छाए रहेंगे और बदरिया बरसेगी

89
Bijapur district received 93 mm of rain in one day

बादल छाए रहेंगे और बदरिया बरसेगी

पंकज दाऊद @ बीजापुर। बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का असर दो दिन बाद जिले में दिखने लगा है और इसी वजह से यहां आने वाले दो से तीन दिनों तक बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश होगी।

कृषि विज्ञान केन्द्र के मौसम विज्ञानी भीरेन्द्र कुमार पालेकर ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बना है और इसका असर दिखाई दे रहा है। बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश की संभावना दो दिन तक है। एक अनुमान के मुताबिक इन दो दिनों में 10 से 15 एमएम बारिश होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में नक्सलियों ने मचाया कोहराम, दिनदहाड़े 9 गाड़ियों को किया आग के हवाले... देखिए घटनास्थल की तस्वीरें

मौसम में आए बदलाव से दिन का तापमान घटेगा और रात का तापमान बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि एक नवंबर को अधिकतम तापमान 31.20, दो नवंबर को 31.20, तीन नवंबर को 29.30, चार नवंबर को 30.70, पांच नवंबर को 31.40, छह नवंबर को 31, सात नवंबर को 30.40, आठ नवंबर को 29.40, नौ नवंबर को 30, दस नवंबर को 29.60, ग्यारह नवंबर को 29.20 एवं बारह नवंबर को 28.10 डिग्री सेल्सियस रेकाॅर्ड किया गया।

यह भी पढ़ें :  Covid-19 से बचने ग्रामीणों ने गांव में की नाकाबंदी, बाहरी शख्स के प्रवेश पर 2 हजार का जुर्माना!

वहीं न्यूनतम तापमान एक नवंबर को 19.10, दो नवंबर को 21.20, तीन नवंबर को 20.20, चार नवंबर को 20.50, पांच नवबंर को 20, छह नवंबर को 18.30, सात नवंबर को 15.50,आठ नवंबर को 14.40, नौ नवंबर को 14.50, दस नवंबर को 15.60, ग्यारह नवंबर को 15.40 एवं बारह नवंबर को 21.40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

करेले और बरबटी को नुकसान

उद्यानिकी के विषय वस्तु विशेषज्ञ डाॅ केएल पटेल ने बताया कि नमी के कारण बरबटी, करेला, कुंदरू और परवल की फसल को नुकसान होता है। दरअसल इन पौधों में डाउनी एवं पावडरी मिल्ड्यू नामक एक कवक का अटैक होता है।

यह भी पढ़ें :  माओवादियों ने फिर किया 'ड्रोन हमले' का दावा‚ बस्तर IG के बयान पर किया पलटवार... प्रेस नोट व ऑडियो जारी कर कहा- हम प्रमाण दिखाने तैयार

इससे पत्तियां पीली पड़कर झड़ने लग जाती हैं। फलस्वरूप फूल और फल नहीं बन पाते हैं। विभागीय अफसरों से सलाह लेकर किसानों को फसल में फफंूदनाषी का छिड़काव करना चाहिए।