जैन धर्म गुरूओं पर अभद्र टिप्पणी से समाज आक्रोशित, क्रांति सेना के अध्यक्ष पर कार्रवाई की मांग

633

जैन धर्म गुरूओं पर अभद्र टिप्पणी से समाज आक्रोशित, क्रांति सेना के अध्यक्ष पर कार्रवाई की मांग

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। जैन समाज के धर्म गुरुओं पर छग क्रांति सेना के प्रदेशाध्यक्ष अमित बघेल द्वारा की गई अभद्र टिप्पणी से जैन समाज के लोग आक्रोशित हैं। सकल श्री जैन समाज के लोगों ने इस मसले को लेकर प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर अमित बघेल के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम गीदम तहसीलदार को सौंपे ज्ञापन में कहा गया है कि 25 मई को बालोद जिले में छत्तीसगढ़ क्रांति सेना के प्रदेशाध्यक्ष अमित बघेल ने अल्पसंख्यक व अहिंसक जैन समाज के धर्मगुरुओं के खिलाफ अभद्र एवं बहुत ही घटिया शब्दों का प्रयोग करते हुए जैन समाज का अपमान किया है।

यह भी पढ़ें :  मुठभेड़ में भारी पड़ने लगे जवान तो कैम्प छोड़ भागे नक्सली... पुलिस पार्टी ने कैम्प से विस्फोटक सहित सामान बरामद किया

विश्व में अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाले, आपसी प्रेम, सद्भाव व भाईचारा बढ़ाने वाले, जियो व जीने दो का संदेश देने वाले जैन मुनियों के बारे में खुले मंच से ऐसी अभद्र भाषा का प्रयोग करने वाले अमित बघेल का जैन समाज कठोर शब्दों में निंदा करता है।

 

बयानों से समाज में घोल रहे जहर

छत्तीसगढ़ राज्य आपसी प्रेम व सद्भाव के लिए जाना जाता है। इस प्रकार के बयान देकर अमित बघेल जैसे लोग समाज में जहर घोल रहे हैं। छग राज्य के इतिहास में आज तक किसी भी धर्म संप्रदाय के धर्मगुरुओं के लिए किसी ने भी ऐसी घटिया बातें नहीं की थी।

यह भी पढ़ें :  बस्तर में युवती के साथ गैंगरेप, पीड़िता ने कर ली आत्महत्या... पुलिस ने कब्र खोदकर निकाला शव, 5 आरोपी गिरफ्तार

सकल श्री जैन समाज ने ज्ञापन के माध्यम से ऐसे बयान देने वालों पर कार्रवाई करने की मांग की है। इस दौरान ओसवाल श्वेताम्बर जैन समाज के अध्यक्ष विमल सुराना, सुनील जैन, दीपक जैन, मोहन लाल जैन, मनीष सुराना, रजनीश सुराना, शीतल सुराना, सुनील गोलछा, साक्षी सुराना, आशा डागा, सोनू बूरड़, सुशील जैन समेत अन्य लोग मौजूद थे।