जानिए… आखिर तीन साल कौन करेगा अब नेतागिरी ? 83 फीसद वोट पड़े वन कर्मचारी संघ के चुनाव में

95

जानिए… आखिर तीन साल कौन करेगा अब नेतागिरी ? 83 फीसद वोट पड़े वन कर्मचारी संघ के चुनाव में

पंकज दाऊद @ बीजापुर। वन कर्मचारी संघ के चुनाव में अब तीन साल तक ‘नेतागिरी’ की कमान इंद्रावती टाइगर रिजर्व के पासेवाड़ा रेंज के वन रक्षक विश्वनाथ मांझी को मिली है। जिलाध्यक्ष के चुनाव में उन्होंने भैरमगढ़ सामान्य परिक्षेत्र के अपने काउंटर पार्ट अरविंद कुमार कोर्राम को 99 के मुकाबले 137 मतों से मात दी।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बार्डर पर मुठभेड़ में 13 नक्सली ढेर... C-60 कमांडोज को मिली बड़ी कामयाबी
– वोट डालने बारी के इंतजार में मतदाता।

जिलाध्यक्ष वाय लोकेश रेड्डी का तीन साल का कार्यकाल खत्म होने पर रविवार को यहां वन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष का चुनाव हुआ। संघ में सदस्य संख्या 283 है और 236 यानि 83 फीसद मत पड़े। कर्मचारी संघ में डिप्टी रेंजर से वन रक्षक के सदस्य हैं।

सुबह दस बजे से शाम चार बजे तक मतदान हुआ। साढ़े चार बजे पर्यवेक्षक उमेश सिंह एवं चुनाव अधिकारी संतोष कुमार काछी ने नतीजों की घोषणा की। सुबह से ही मतदाताओं का हुजूम लगा रहा। मतदान तेंदू हाल में हुआ।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा सीट बचाने BJP लगाएगी एड़ी चोटी का जोर... PM मोदी, अमित शाह सहित दिग्गज नेता करेंगे दंतेवाड़ा में रैली, देखिए स्टार प्रचारकों की सूची

पर्यवेक्षक उमेश सिंह ने दोनों प्रतिद्वंदियों की तारीफ करते कहा कि चुनाव लड़ना ही हिम्मत की बात है। दोनों को उन्होंने एक साथ मिलकर काम करने और कर्मचारी हित में हमेशा खड़े रहने की समझाईश दी।

– विश्वनाथ मांझी

उन्होंने वन कर्मचारी संघ को सशक्त बनाए रखने की सलाह देते कहा कि कर्मचारियों में एकता जरूरी है। कोई भी समस्या आने पर राज्य स्तर से कर्मचारी नेताओं का भरपूर सहयोग मिलेगा। इस मौके पर अध्यक्ष विश्वनाथ मांझी ने कहा कि वे हमेशा कर्मचारी हित में काम करेंगे और कोई भी समस्या आने पर वे मौजूद रहेंगे।

यह भी पढ़ें :  कोविड हाॅस्पिटल के रूम में 28 घंटे से पड़ी लाश, बुजुर्ग की मौत के बाद नहीं पहुंचे परिजन