CAF कैंप पर नक्सलियों ने किया हमला, नए स्थापित कैंप में की फायरिंग… 2 मजदूर जख्मी, 2 जवानों को भी लगी चोट

2173
DRG team killed a naxalite in an encounter

CAF कैंप पर नक्सलियों ने किया हमला, नए स्थापित कैंप में की फायरिंग… 2 मजदूर जख्मी, 2 जवानों को भी लगी चोट

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने सुरक्षा बल के कैंप को निशाना बनाते हुए फायरिंग की। घटना बुधवार रात की है। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक इस हमले में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

बता दें कि किरंदुल थाना क्षेत्र के हिरोली दोकापारा में हाल ही में CAF के नवीन कैंप की स्थापना की गई है। इसी कैंप पर बुधवार की रात करीब 9 से साढ़े 9 बजे के बीच नक्सलियों ने हमला बोल दिया। घने जंगलों की आड़ लेकर नक्सली काफी देर तक फायरिंग करते रहे।

DRG team killed a naxalite in an encounter

गोलीबारी की आवाज सुनकर जवानों ने भी मोर्चा संभाला और नक्सलियों के इस हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया। दोनों ओर से रुक-रुक कर गोलीबारी चलती रही और फिर बाद में नक्सली अंधेरे का फायदा उठाते हुए जंगलों की ओर भाग निकले। मामले की पुष्टि दंतेवाड़ा ASP राजेंद्र जायसवाल ने की है।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर में नक्सलियों ने मचाया कोहराम, दिनदहाड़े 9 गाड़ियों को किया आग के हवाले... देखिए घटनास्थल की तस्वीरें

बता दें कि बैलाडीला की पहाड़ी के नीचे स्थित नक्सल प्रभावित हिरोली गांव में पुलिस द्वारा कैंप स्थापित किया गया है। इस इलाके में नक्सलियों की गहरी पैठ रही है। यहां कैंप खुलने के बाद से ही नक्सलियों में बौखलाहट है।

दरअसल, इस क्षेत्र में नक्सलियों की मलांगिर एरिया कमेटी और गंगालूर एरिया कमेटी सक्रिय है। यह इलाका नक्सलियों का कोर एरिया माना जाता है। दंतेवाड़ा और बीजापुर जिले का सरहदी इलाका होने के कारण विभिन्न घटनाओं के बाद नक्सलियों की आमदरफ्त यहीं से होती रही है।

इस घटना से जुड़ी ताजा अपडेट…

यह भी पढ़ें :  नक्सल प्रभावित थानों के बदले गए प्रभारी, एसपी ने 12 निरीक्षकों का किया तबादला

दंतेवाड़ा एसपी सिद्धार्थ तिवारी ने बताया कि पश्चिम बस्तर डिवीज़न के संदिग्ध माओवादी कैडरों द्वारा बुधवार की रात लगभग 20:30 बजे हिरोली कैम्प के आसपास इलाके में फायरिंग की गई। करीब 40 मिनट तक फायरिंग होती रही।

एसपी के मुताबिक, माओवादियों द्वारा लगभग 15 BGL Shell दागे गये, जिनमें से लगभग 07 BGL Shell विस्फोट हुये। कैम्प के अंदर मौजूद छसबल एवं डीआरजी की पार्टी द्वारा आत्मरक्षार्थ माओवादियों की फायरिंग के विरुद्ध जवाबी कार्यवाही की गई।

माओवादियों द्वारा की गई फायरिंग में कैम्प निर्माण स्थल में मजदूर के रूप में काम कर रहे 02 महिलाओं एवं छसबल के 02 जवानों को मामूली चोटें आई हैं। घायल महिलाओं एवं छसबल जवानों का विवरण निम्नानुसार है…

01. दुले हेमला (महिला मजदूर) के पेट में सतही गोली का घाव।

यह भी पढ़ें :  कोरोना के केस बढ़े, महिला योद्धा हो गईं एक्टिव... पांच स्पेशल वैक्सिनेशन सेंटर खोले गए

02. बुदरी ताती (महिला मजदूर) के चेहरे पर मामूली खरोंच की चोटें।

03. सलीम लकड़ा (छसबल आरक्षक) के पीठ में मामूली चोट।

04. किशन सूर्यवंशी (छसबल आरक्षक) के दाहिने कान के पीछे मामूली चोट।

बताया गया है कि घायल महिला मजदूर दुले हेमला को कैम्प से निकाल कर दिनांक 22.06.2022 को रात्रि में उपचार हेतु जिला अस्पताल दंतेवाड़ा में भर्ती कराया गया है। वह खतरे से बाहर है।

फायरिंग में घायल अन्य 01 मजदूर महिला एवं 02 छसबल जवानों की चोटें सामान्य हैं और उन्हें कैम्प में ही प्राथमिक उपचार किया गया है। इन सभी घायलों की स्थिति खतरे से बाहर तथा सामान्य है। 

घटना के बाद अतिरिक्त डीआरजी बल हिरोली कैम्प में पहुंच गये हैं। वहीं सुरक्षा कैम्प के आसपास इलाका में सर्चिंग जारी है।