नक्सलियों ने किसानों के ट्रेक्टर परेड का किया समर्थन, हिंसक वारदातों के लिए केंद्र सरकार को ठहराया ज़िम्मेदार

70

नक्सलियों ने किसानों के ट्रेक्टर परेड का किया समर्थन, हिंसक वारदातों के लिए केंद्र सरकार को ठहराया ज़िम्मेदार

के. शंकर @ सुकमा। देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों द्वारा किए गए ट्रेक्टर परेड का माओवादियों ने स्वागत किया है। वहीं इस दौरान हुई हिंसक घटनाओं के लिए केन्द्र की मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

बता दें कि माओवादियों की केंद्रीय कमेटी के अलावा दण्डकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संगठन(DAKMS), क्रांतिकारी महिला संगठन (KAMS) और जोन क्रांतिकारी जनताना सरकार समन्वय कमेटी (ZKJSSC) ने अलग अलग प्रेसनोट जारी कर किसान आंदोलन को समर्थन जताया है।

यह भी पढ़ें :  DRG जवानों ने नक्सली कैम्प किया ध्वस्त... मौके से वायरलेस सेट, 25 हजार रूपये नगद व विस्फोटक सामग्री बरामद

नक्सलियों द्वारा जारी प्रेस नोट में कहा गया है कि केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों कृषि कानूनों से न केवल किसान, बल्कि देश की 80 फीसदी आबादी बुरी तरह प्रभावित होगी। किसानों के आंदोलन को जायज बताते हुए माओवादियों ने इसका समर्थन करने की अपील की है।

गौरतलब है कि नक्सलियों के केंद्रीय कमेटी के प्रवक्ता अभय के साथ ही ZKJSSC के प्रभारी सुक्खू लेकाम, KAMS अध्यक्षा- रनीता हिचामी और DAKMS अध्यक्ष- विजय मरकाम ने प्रेस नोट जारी कर किसानों के आंदोलन को समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें :  BREAKING : पूर्व सांसद अनुसुइया उइके होंगी छत्‍तीसगढ़ की नई राज्‍यपाल... राष्ट्रपति ने दी नियुक्ति की मंजूरी, जानिए उनके बारे में 7 बड़ी बातें...