नक्सलियों पर टूटा कोरोना का कहर! पुलिस का दावा- कई माओवादी लीडर भी संक्रमित… SP ने की ये अपील!

52

नक्सलियों पर टूटा कोरोना का कहर! पुलिस का दावा- कई माओवादी लीडर भी संक्रमित… SP ने की ये अपील!

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। कोरोना वायरस की दूसरी लहर पूरे देश में कहर बनकर टूट रही है। इसी बीच बस्तर के बीहड़ों से एक बड़ी खबर निकलकर आ रही है। पुलिस का दावा है कि कई नक्सली भी इस महामारी की गिरफ्त में आ चुके हैं, जिनमें कुछ बड़े माओवादी लीडर के नाम भी शामिल हैं।

दंतेवाडा पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने खबर की पुष्टि करते बताया कि नक्सल संगठन में कोरोना और फूड प्वॉइजनिंग के मामले सामने आए हैं। विश्वस्त सूत्रों से ये जानकारी मिली है कि कई नक्सलियों में फूड प्वॉइजनिंग और कोरोना के लक्षण देखे गए हैं।

यह भी पढ़ें :  चौदहवें वित्त की राशि होल्ड, सरपंच बोले- 'काम पर असर पड़ा'… सामूहिक इस्तीफे की भी दी चेतावनी

कोरोना की चपेट में हार्डकोर नक्सली

एसपी ने बताया कि कोरोना वायरस की चपेट में कई नक्सली लीडर भी आ गए हैं। दण्डकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी की सदस्य 25 लाख की इनामी नक्सली सुजाता भी कोरोना से ग्रसित है। सुजाता को सांस लेने में तकलीफ है। वह चल नहीं पा रही है। उसके सीने में भी गंभीर इंफेक्शन है। ये सभी कोरोना के लक्षण हैं।

– दंतेवाडा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव

एसपी पल्लव के मुताबिक, सुजाता के अलावा गंगालूर एरिया कमेटी के सेक्रेटरी दिनेश की टीम से 10-15 नक्सली सदस्य कोरोना संक्रमित हैं। वहीं दरभा डिवीजन कमेटी के नक्सली सोमड़ू और जयलाल की टीम के भी कई सदस्य कोरोना से पीड़ित होने की पुख्ता सूचना मिली है।

यह भी पढ़ें :  सहायक आरक्षक ने ज़हर खाकर की खुदकुशी की कोशिश, अस्पताल में भर्ती

Read More:

पुलिस अधिकारी के अनुसार नक्सली संगठन इन दिनों कोरोना महामारी के साथ ही फूड प्वॉइजनिंग से भी जूझ रहा है। कई नक्सलियों के फूड प्वॉइजनिंग के शिकार होने की जानकारी मिली है।

AP स्ट्रेन की आशंका

एसपी की मानें तो दक्षिण बस्तर में सक्रिय नक्सलियों में कोरोना के लक्षण देखे गए हैं। चूंकि ये इलाका आंध्रप्रदेश व तेलंगाना की सीमा से लगा है ऐसे में नक्सलियों में कोरोना के AP स्ट्रेन फैलने की आशंका भी है। अगर ऐसा है तो अंदरूनी गांवों के ग्रामीणों के संक्रमित होने का खतरा भी बढ़ गया है।

यह भी पढ़ें :  सीएम साहब ! मैं और मेरी पत्नी रातभर करते हैं गोबर की चौकीदारी... जब मंटूराम ने मुख्यमंत्री को सुनाई आपबीती

इलाज कराने पुलिस तैयार

एसपी अभिषेक पल्लव ने नक्सलियों से अपील की है कि वे अपना इलाज कराएं। ‘लोन वर्राटू’ अभियान के तहत सरेंडर करें। छत्तीसगढ़ पुलिस उनके इलाज का पूरा इंतजाम करेगी। अन्यथा कोरोना से नक्सलियों की मौत होगी। उनका कैडर खत्म होगा और गांव वालों पर भी खतरा मंडराता रहेगा।