सुकमा जिला हॉस्पिटल में सोनोग्राफी सेवा शुरू, गर्भवती महिलाओं को अब भटकना नहीं पड़ेगा

76

सुकमा जिला हॉस्पिटल में सोनोग्राफी सेवा शुरू, गर्भवती महिलाओं को अब भटकना नहीं पड़ेगा

के. शंकर @ सुकमा। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए शासन व प्रशासन द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में जिला चिकित्सालय में सोनोग्राफी सेवा शुरु होने से लोगों ने राहत की सांस ली है।

जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी एवं सुकमा नगर पालिका अध्यक्ष जगन्नाथ साहू ने मंगलवार को जिला चिकित्सालय में सोनोग्राफी कक्ष का शुभारंभ कर जिले की माताओं को सौगात दी। जिले में सोनोग्राफी की सुविधा शुरू होने से अब गर्भवती महिलाओं को लम्बी दूरी तय कर जगदलपुर जाने की परेशानी से निजात मिलेगी।

यह भी पढ़ें :  रेप के आरोपी IAS जेपी पाठक के ठिकानों पर पुलिस की दबिश, घर के बाहर चस्पा किया नोटिस

Read More:

 

इस अवसर पर हरीश कवासी ने कहा कि यहाँ की जनता को जिला चिकित्सालय में सोनोग्राफी मशीन स्थापित होने का लम्बे समय से इंतजार था। शासन प्रशासन द्वारा सुकमा जिले में स्वास्थ्य सुविधा बेहतर बनाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। आज सोनोग्राफी सेवा की शुरुआत से लोगों का इंतजार खत्म हुआ।

यह भी पढ़ें :  किसान विरोधी काले कानून वापस ले मोदी सरकार, उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने किसानों पर जबरन कानून थोपना गलत

सोनोग्राफी सेवा शुरू होने से निश्चित तौर पर जिले के गरीब तबके के लोगों के साथ ही गर्भवती महिलाओं को इसका लाभ मिलेगा। वहीं जिलेवासियों को अब सोनोग्राफी जाँच के लिए कहीं और भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

Read More:

जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश कवासी ने कहा कि जिले में स्वास्थ्य सुविधा बेहतर करने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा हैं। आज सभी की मेहनत का ही नतीजा हैं कि जिले में कोविड पाजिटिविटी दर दिनों दिन कम हो रही है। इस दौरान सीएस यशवंत कुमार ध्रुव भी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें :  शांति वार्ता की पेशकश पर CM भूपेश बघेल बोले– पहले संविधान पर विश्वास जताएं नक्सली, तभी बातचीत संभव

पूर्णतः निःशुल्क होगी सुविधा

सीएमएचओ डॉ सीबी प्रसाद बंसोड़ ने बताया कि सोनोग्राफी की सुविधा पूर्णतः निःशुल्क होगी। यह सुविधा शुरू होने से जिले के गर्भवती माताओं को लाभ होगा, उन्हें अन्यत्र जाना नहीं पड़ेगा। सही समय पर उनकी जांच हो सकेगी और प्रसव के समय उन्हें कठिनाईयों का सामना नहीं करना पड़ेगा।