2 अधिकारी सस्पेंड, तालाब निर्माण में गड़बड़ी का आरोप… 4 पर हुई थी कार्रवाई, दो बहाल

1336
two officers of fisheries department suspended

मछली पालन विभाग के दो अधिकारी सस्पेंड, तालाब निर्माण में गड़बड़ी का आरोप

कांकेर/रायपुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में मछली पालन विभाग में पदस्थ दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। इन पर तालाब खनन में गड़बड़ी का आरोप है।

मछली पालन विभाग के संचालक नारायण सिंह नाग ने बताया कि कांकेर जिले के कोयलीबेड़ा विकासखण्ड में मछली पालन हेतु तालाब खनन में गड़बड़ी का मामला सामने आने पर कलेक्टर द्वारा सहायक संचालक मछली पालन कांकेर सहित कुल चार अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़ें :  बीजापुर नगर पालिका में कांग्रेस का कब्जा, बेनहूर रावतिया अध्यक्ष और सल्लूर उपाध्यक्ष बने

बता दें कि तालाब खनन में गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर कांकेर कलेक्टर ने इस मामले की जांच में शिकायत सही पाए जाने पर सहायक संचालक मछली पालन कांकेर सुदेश कुमार साहू, एएफओ टीआर भंडारी, मत्स्य निरीक्षक अशोक गाइन एवं दिनेश कुमार श्रीवास्तव को प्रथम दृष्टया दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया था।

two officers of fisheries department suspended

 

इसके पश्चात विस्तृत जांच पड़ताल में सहायक संचालक साहू एवं मत्स्य निरीक्षक दिनेश कुमार श्रीवास्तव की संलिप्तता न पाए जाने के कारण उक्त दोनों अधिकारियों को बहाल कर दिया गया है। निलंबित एएफओ टीआर भंडारी एवं मस्त्य निरीक्षक अशोक गाइन के विरूद्ध विभागीय जांच चल रही है।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में CISF के दो और जवानों को हुआ कोरोना, जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 6

संचालक नाग ने बताया कि विभागीय जांच प्रतिवेदन प्राप्त होने पर शासन को कार्रवाई के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि मत्स्य पालन हेतु तालाब खनन योजना के तहत लाभान्वित हितग्राही कृषकों को अनुदान दिए जाने का प्रावधान है।

इस योजना के तहत सामान्य वर्ग के हितग्राहियों को 40 प्रतिशत, अनुसूचित जाति एवं जनजाति तथा महिला वर्ग के हितग्राहियों को 60 प्रतिशत अनुदान दिया जाता है।