कलेक्टर ने किया निरीक्षण तो दफ्तर से गायब मिले 39 कर्मचारी, नोटिस जारी

7812

कलेक्टर ने किया निरीक्षण तो दफ्तर से गायब मिले 39 कर्मचारी, नोटिस जारी

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ सरकार ने शासकीय कार्यालयों में ‘फाइव डे वीक’ लागू करते हुए कर्मचारियों को हफ्ते में दो दिन का अवकाश देने का निर्णय लिया है। इसके बावजूद शासकीय कर्मचारी अपनी ड्यूटी को लेकर लापरवाह बने हुए हैं।

 

इस बात का खुलासा तब हुआ जब दंतेवाड़ा कलेक्टर दीपक सोनी ने कलेक्ट्रेट परिसर में स्थित शासकीय कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान 39 कर्मचारी अपने अपने दफ्तरों से नदारद मिले। शासकीय कार्य में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ जिला प्रशासन द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें :  दीपावली पर सुकमा पुलिस व CRPF जवान बने देवदूत… गर्भवती महिला की बचाई जान

कलेक्टर दीपक सोनी ने बुधवार को सुबह 10 से 10:15 बजे के बीच संयुक्त जिला कार्यालय स्थित आदिवासी विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, पशुचिकित्सा, मत्स्य पालन, पीएचई, सहायक पंजीयक, सहकारी संस्थाए एवं अन्य कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान बड़ी संख्या में कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए।

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर सोनी ने विभिन्न शाखाओं के उपस्थिति पंजी का निरीक्षण किया। कलेक्टर कार्यालय में विभिन्न विभागों एवं शाखाओं में 39 अधिकारी, कर्मचारी अनुपस्थित थे। जिन्हें कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें :  वन विभाग में बड़ा फेरबदल: 23 IFS अफसरों का हुआ तबादला, सरकार ने जारी की ट्रांसफर लिस्ट...देखिए पूरी सूची

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा शासकीय कर्मचारियों की कार्यक्षमता और उत्पादकता बढ़ाने के लिए पांच कार्य दिवस प्रति सप्ताह प्रणाली प्रारंभ करने की घोषणा की गई है। छग शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा इस संबंध में 2 फरवरी को अधिसूचना भी जारी की गई है। यह अधिसूचना जारी होने की तिथि से प्रभावशील हो गयी है। अधिसूचना के अनुसार समस्त मैदानी कार्यालयों हेतु कार्यावधि सुबह 10 बजे से सायं 5.30 तक निर्धारित है।

यह भी पढ़ें :  PLGA की 20वीं वर्षगांठ पर नक्सलियों ने जारी किया प्रेस नोट... 144 जवानों व 35 नेताओं समेत 250 लोगों की हत्या की बात कबूली