अपहृत इंजीनियर की पत्नी ने पति की रिहाई के लिए की अपील… बोलीं- ‘रोजी-रोटी के लिए मेरे पति बस्तर आए हैं, मासूम बेटियों की खातिर छोड़ दें’

3054

अपहृत इंजीनियर की पत्नी ने पति की रिहाई के लिए की अपील… बोलीं- ‘रोजी-रोटी के लिए मेरे पति बस्तर आए हैं, दो बेटियों की खातिर छोड़ दें’

बीजापुर @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के बेदरे इलाके से शुक्रवार को अगवा हुए इंजीनियर का अब तक कोई सुराग नहीं लग सका है। घटना के कई घंटे बीतने के बाद भी पुलिस के पास इस मामले में ज्यादा जानकारी नहीं है।

यह भी पढ़ें :  पामेड़ इलाके में माओवादियों का खूनी खेल, 16 ग्रामीणों की हत्या की खबर... घटना की आधिकारिक पुष्टि नहीं

इधर, अपहृत इंजीनियर अशोक पवार की पत्नी सोनाली पावर ने अपने पति की सकुशल रिहाई के लिए मार्मिक अपील की है। सोनाली ने अपनी दोनों मासूम बेटियों का हवाला देते हुए अपने पति को सकुशल छोड़ने की अपील की है।

मीडिया के जरिये सोनाली ने कहा है कि उनके पति रोजी रोटी के लिए काम करने बस्तर आए हैं। वे पेशे से इंजीनियर हैं। उनको जो कोई भी अपने साथ लेकर गए हैं, उनसे विनम्र अपील है कि वे उन्हें सकुशल छोड़ दें।

यह भी पढ़ें :  नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर जवानों से भरी बस को उड़ाया... ड्राईवर समेत DRG के 5 जवान शहीद, कई घायल
– अपहृत इंजीनियर अशोक पवार

सोनाली ने कहा है कि उनकी दो छोटी छोटी बेटियां हैं। पापा के अगवा होने की बात सुनकर वे काफी उदास हैं और डरी हुई हैं। अपहरणकर्ताओं से अपील करते सोनाली ने कहा कि उनके अलावा हमारा इस दुनिया में कोई नहीं है। आप से विनती है कि मेरे पति को छोड़ दीजिये।

आपको बता दें कि बीजापुर जिले के बेदरे थाना क्षेत्र में इंद्रावती नदी पर बन रहे पुल का काम करवाने निजी कंस्ट्रक्शन कंपनी के इंजीनियर अशोक पवार साइट पर गए हुए थे। इसी दौरान शुक्रवार की शाम ग्रामीण वेशभूषा में पहुंचे कुछ नक्सलियों ने उनका अपहरण कर लिया। नक्सली उनके साथ एक मिस्त्री को भी अपने साथ लेकर चले गए।

यह भी पढ़ें :  कोबरा बटालियन के इंस्पेक्टर ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, शौचालय में मिली लाश