भाजयुमो का अनोखा प्रदर्शन, ठेले पर बाइक रखकर कलेक्ट्रेट पहुंचे कार्यकर्ता… भूपेश सरकार के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

86

भाजयुमो का अनोखा प्रदर्शन, ठेले पर बाइक रखकर कलेक्ट्रेट पहुंचे कार्यकर्ता… भूपेश सरकार के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। भारतीय जनता युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने दंतेवाड़ा में अनोखा प्रदर्शन कर राज्य की कांग्रेस सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर ​की।

भाजयुमो कार्यकर्ता ठेले पर बाइक को लादकर ढकेलते हुए कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे और जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। इस बीच भाजपा कार्यकर्ता राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए सीमेंट के दाम कम करने की मांग करते हुए नजर आए।

भाजयुमो जिलाध्यक्ष कुणाल ठाकुर ने बताया कि काँग्रेस की भूपेश सरकार महंगाई को लेकर नौटंकी करने पर उतारू है। जबकि छत्तीसगढ़ में पेट्रोल और डीजल में 25 परसेंट वैट लागू है, जिसे सरकार चाहे तो हटा सकती है। लेकिन हटाती नहीं है। इतना ही नहीं सीमेंट की कीमतों में भी बेतहाशा मूल्य वृद्धि कर आम जनता का बुरा हाल कर रखा है।

यह भी पढ़ें :  दंतेवाड़ा में कोरोना से पहली मौत... इलाज के दौरान संक्रमित मरीज की हुई मौत, दो दिन बाद रिपोर्ट आई पॉजिटिव

केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने दीपावली के दिन पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने की घोषणा की थी जिसके बाद विभिन्न राज्यों की सरकारों ने भी पेट्रोल डीजल पर टैक्स कम कर जनता को महंगाई से राहत दिलाई। लेकिन छत्तीसगढ़ प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अभी तक पेट्रोल-डीजल पर टैक्स नही घटाया है।

राज्य सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल पर 25% टैक्स के साथ अतिरिक्त 2% सेंस वसूला जा रहा हैं। इसी तरह प्रदेश की कांग्रेस सरकार सीमेंट की कीमतों पर नियंत्रण नही कर पा रही है विगत दो-तीन वर्षों में सीमेंट में लगातार बेतहाशा मूल्य वृद्धि कर दिए जाने से छत्तीसगढ़ की जनता परेशान है तथा आम जनों का घर बनाना मुश्किल हो गया है।

यह भी पढ़ें :  'गाड़ी वाला आया घर से कचरा निकाल', अब ये गाना बंद ! घरों में रोजाना जाम हो रहा है 1800 किलो कूड़ा

Read More:

 

विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम में भाजपा जिलाध्यक्ष चैतराम अट्टामी, ओजस्वी मंडावी, पायल गुप्ता, सुमन प्रभा यादव, नंदलाल मुडामी, मुन्ना मरकाम, श्रवण कड़ती, कुलदीप ठाकुर, रामू नेताम, जय दयाल नागेश, भुनेश्वर पुजारी, खिरेन्द्र ठाकुर, कामों कुंजाम, कृष्णकांत शिवहरे, राघवेन्द्र गौतम, राज तिलक, अविनाश मिश्रा, अरविंद कुंजाम, नितेश, जितेंद्र वट्टी, राजेश नाग, अविनाश नायर, अजय अवस्थी, दिनेश, बलदेव, नंदलाल, शिव प्रताप, लक्ष्मी टेकाम, कमल, धीरज यादव राहुल, राजेंद्र इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें :  बस्तर में बनेगा जनजातीय संग्रहालय, किसान मार्केट भी बनेंगे... नदी को जिंदा रखने बनेगा इंद्रावती प्राधिकरण