DRG जवानों का दिखा मानवीय चेहरा, गर्भवती को खाट पर उठाकर पहुंचाया अस्पताल 

2238
DRG jawans picked up the pregnant woman on a cot and took her to the hospital

DRG जवानों का दिखा मानवीय चेहरा, गर्भवती को खाट पर उठाकर पहुंचाया अस्पताल 

दंतेवाड़ा @ खबर बस्तर। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में पदस्थ DRG जवान नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई तो लड़ ही रहे हैं लेकिन जरूरत पड़ने पर वे ग्रामीणों के लिए मददगार भी बन जाते हैं। 

ऐसा ही एक वाक्या उस वक्त पेश आया जब प्रसव पीड़ा से तड़प रही एक गर्भवती महिला को डीआरजी जवानों ने कांधे पर खाट में उठाकर अस्पताल तक पहुंचाया। सही समय पर अस्पताल पहुंचने पर गर्भवती महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित बताए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  खबर का असर: पटाखा दुकानों में प्रशासन की दबिश, एक दुकान किया गया सील

DRG jawans picked up the pregnant woman on a cot and took her to the hospital

कुआकोंडा थाना क्षेत्र के रेवाली गांव के पटेल पारा की रहने वाली गर्भवती महिला कूर्म नंदे (35) दर्द से तड़प रही थी। गांव तक पहुंचने वाली कच्ची सड़क को नक्सलियों ने कई जगह से काट दिया है। लिहाजा गांव तक एंबुलेंस पहुंचना मुमकिन नहीं था। ऐसे में डीआरजी जवान गर्भवती महिला के लिए फरिश्ते बनकर सामने आए। 

दरअसल, धुर नक्सल प्रभावित इलाके में DRG जवान गश्त करते हुए पहुंचे थे। वहां उनकी नजर एक घर के बाहर खाट पर लेटी एक गर्भवती महिला पर पड़ी जो दर्द से तड़प रही थी। जवानों ने तुरंत खाट को कंधे पर उठाया और कई किलोमीटर तक पैदल चलकर मुख्यमार्ग तक लेकर आए।

यह भी पढ़ें :  Tik-Tok वीडियो बनाते समय हादसा, खदान में गिरने से युवती की मौत

DRG jawans picked up the pregnant woman on a cot and took her to the hospital

यहा से पुलिस की गश्त वाहन में महिला को पालनार के अस्पताल लाया गया। अस्पताल में महिला की सुरक्षित डिलीवरी कराई गई। डॉक्टरों ने बताया कि जवानों की मदद से सही समय पर अस्पताल पहुंचने से महिला का सुरक्षित प्रसव हो सका है। महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं।