भोपालपटनम में तहसील कार्यालय और दोनों रेस्ट हाउस सील… 6 लोगों की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

96
Tehsil office and both rest houses sealed in Bhopalpatnam

भोपालपटनम में तहसील कार्यालय और दोनों रेस्ट हाउस सील… 6 लोगों की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

पंकज दाऊद @ बीजापुर। तेलंगाना एवं महाराष्ट्र से सटे जिले के भोपालपटनम ब्लाॅक में कोरोना का खतरा मण्डराने लगा है। यहां 6 लोगों के आरटीपीसीआर टेस्ट में पाॅजीटिव आने की पुष्टि गुरूवार को हुई है। इधर, यहां दोनों रेस्ट हाऊस के अलावा तहसील कार्यालय को सील कर दिया गया है।

Tehsil office and both rest houses sealed in Bhopalpatnam

सीएमएचओ डाॅ बीआर पुजारी ने बताया कि गुरूवार को डिमरापाल से आई रिपोर्ट में 6 लोगों के कोरोना होने की पुष्टि हुई है और इनमें ज्यादातर लोग भोपालपटनम के हैं। सूत्रों के मुताबिक अभी इस ब्लाॅक में अब तक 13 एंटीजन टेस्ट पाॅजीटिव पाए गए हैं जबकि 21 आरटीपीसीआर पाॅजीटिव।

यह भी पढ़ें :  12 नक्सलियों के सरेंडर को माओवादी नेता ने बताया फर्जी, जिसे उतारा मौत के घाट उसे बताया DRG का जवान!

Read More: नक्सलियों ने पटवारी की बेदम पिटाई की, पर्चे में लिखा— पटवारी और रेंजर को गांव में आने से मार भगाओ !

बताया गया है कि पाॅजीटिव पाए गए 9 लोगों को होम क्वारेंटाइन पर रखा गया है। इधर, तेलंगाना से लगे तारलागुड़ा एवं महाराष्ट्र से लगे तिमेड़ में मेडिकल टीम के अलावा फोर्स की 24 घंटे ड्यूटी लगाई गई है।

बीएमओ डाॅ अजय रामटेके ने बताया कि तीन शिफ्ट में कोरोना वारियर्स काम कर रहे हैं। बाॅर्डर होेने की वजह से यहां ज्यादा निगरानी रखी जा रही है। रूद्रारम में एक आइसोलेशन सेंटर बनाया जा रहा है और यहां मरीजों को रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें :  सुकमा में एक और मुठभेड़… जवानों को भारी पड़ता देख भागे नक्सली, मौके से स्पाइक, प्रेशर IED समेत अन्य सामान बरामद

Read More: सुकमा में तैनात CRPF जवान की कोरोना से मौत, रायपुर AIIMS में इलाज के दौरान तोड़ा दम

बीएमओ ने बताया कि आईटीआई भवन को आइसोलेशन सेंटर का रूप दिया जा रहा है। इसके लिए काम चल रहा है। बाथरूम एवं शौचालय का काम बचा है। ये सेंटर 100 बिस्तर का होगा। समायोजन कर यहां स्टाफ की ड्यूटी लगाई जाएगी।

कलेक्टोरेट तक कोरोना की लपट

कोरोना की लपट कलेक्टोरेट तक पहुंच गई है। एक स्टेनो को कोरोना पाॅजीटिव पाया गया है। उनके पहले एक एसडीएम पाॅजीटिव पाए गए थे। सबसे पहले महिला एवं बाल विकास विभाग के एक अफसर को पाॅजीटिव पाए जाने के बाद कलेक्टोरेट में उनके दफ्तर को सेनेटाइज कर इसे सील किया गया था। अब इसे खोल दिया गया है।

  • आपको यह खबर पसंद आई तो इसे अन्य ग्रुप में Share करें…
यह भी पढ़ें :  खेल महोत्सव में निखरेंगी 10 पंचायतों की प्रतिभाएं, आयोजन की तैयारियों का जिपं अध्यक्ष ने लिया जायजा