नायब तहसीलदार सस्पेंड… CM भूपेश ने किया निलंबित, इन कर्मचारियों पर भी गिरी गाज!

1240

लापरवाही पड़ गई भारी, नायब तहसीलदार सस्पेंड… CM भूपेश ने किया निलंबित, इन कर्मचारियों पर भी गिरी गाज!

रायपुर @ खबर बस्तर। जाति प्रमाण पत्र बनाने में लापरवाही बरतना नायब तहसीलदार को भारी पड़ गया। भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान शिकायत मिलने पर सीएम भूपेश बघेल ने मौके पर ही नायब तहसीलदार को सस्पेंड कर दिया है।

दरअसल, भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान शनिवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जशपुर जिले के पत्थलगांव विधानसभा के ग्राम बाघबाहर पहुंचे थे। जहां पर उन्होंने आमजनता की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए मौके पर ही बड़ी कार्रवाई की है।

यह भी पढ़ें :  मुखबिरी के शक में 2 ग्रामीणों की हत्या... गांव से अगवा कर ले गए नक्सली, फिर उतार दिया मौत के घाट

मुख्यमंत्री ने धान खरीदी में अनियमितता बरतने की शिकायत पर कोटबा सोसायटी के सभी कर्मचारियों को और जाति प्रमाण पत्र बनाने में लापरवाही बरतने पर बाघबाहर के नायब तहसीलदार उदयराज सिंह को तत्काल निलंबित कर दिया है।

ग्रामीण ने की शिकायत, मौके पर बना राशन कार्ड

पत्थलगांव विधानसभा के बटईकेला ग्राम में भेंट मुलाकात के दौरान प्रेमनगर गांव के रहने वाले नारायण यादव ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके पास राशन कार्ड नहीं है। वजह पूछने पर नारायण ने बताया कि सरपंच ने पुराने कार्ड को निरस्त करवा दिया है और नया कार्ड नहीं बनाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :  कोरोना भी नहीं रोक सका पढाई, 3 हजार बच्चे मोहल्ला कक्षाओं से जुड़कर ले रहे शिक्षा

नारायण की बात सुनकर मुख्यमंत्री ने तत्काल ही जशपुर कलेक्टर को निर्देशित किया और कार्ड ना बनने की वजह पता करने को कहा। मुख्यमंत्री ने इसके लिए जिम्मेदार व्यक्ति के खिलाफ करवाई करने के भी निर्देश कलेक्टर को दिए।

इससे पहले की मुख्यमंत्री की भेंट मुलाकात खत्म होती, नारायण यादव का राशन कार्ड मुख्यमंत्री के हाथों में था। मुख्यमंत्री ने मंच से कहा कि चाहे कोई भी हो राशन कार्ड बनने से नहीं रोक सकता। इस तत्काल कार्रवाई से खुद नारायण भी हतप्रभ था और राशन कार्ड पाकर उसके चेहरे पर अब नाराजगी की बजाए मुस्कान तैर रही थी।

यह भी पढ़ें :  SDM ने 9 सरपंचों को थमाया नोटिस, किसी ने आवास अधूरे बनाए तो किसी ने बारदाने जमा नहीं किए