21 सितंबर से 8 नवंबर तक संगठन का ‘वर्षगांठ समारोह’ मनाएंगे नक्सली, पर्चे फेंक किया ऐलान

45
Naxalites will celebrate the anniversary of the organization

पंकज दाऊद @ बीजापुर। नक्सलियों ने संगठन की पचासवीं वर्षगांठ 21 सितंबर से 8 नवंबर तक मनाने की बात कहते बीजापुर जिले के कुछ इलाकों में पर्चे फेंके हैं। माओवादियों ने इन पर्चों में संगठन के इतिहास का ब्यौरा भी दिया है।

यह भी पढ़ें : खुद के लगाए स्पाइक होल में गिरकर घायल हुआ माओवादी, DRG के जवानों ने पहुंचाया अस्पताल, पेश की नज़ीर

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी माओवादी की पश्चिम बस्तर डिविजनल कमेटी की ओर से फेंके गए पर्चों में कहा गया है कि वे वर्षगांठ समारोह को जोशोखरोश से मनाएंगे। दीर्घकालीन लोकयुद्ध को देश में विस्तारित एवं तेज करने संगठन को मजबूत करेंगे औरे आत्मसम्मान एवं अधिकार के लिए संघर्ष करेंगे। जल, जंगल, जमीन, इज्जत एवं अधिकार के लिए संघर्ष तेज करेंगे।

यह भी पढ़ें :  मुखबिरी के शक में 2 ग्रामीणों की हत्या... गांव से अगवा कर ले गए नक्सली, फिर उतार दिया मौत के घाट

Naxalites will celebrate the anniversary of the organization

पर्चे में आरोप लगाया गया है कि पुलिस और अर्धसैनिक बल झूठी मुठभेड़ में हत्या कर रहे हैं और महिलाओं को अपमानित कर रहे हैं। आम जनता को बलपूर्वक विस्थापित किया जा रहा है। चौतरफा हमले करते आपरेशनों को अंजाम दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : नक्सलियों ने पर्चे फेंक सुनाया फरमान, इस विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को सजा देने का किया ऐलान… जानिए पूरा मामला !

पर्चों में कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी-लेनिनवादी), माओइस्ट कम्युनिस्ट सेंटर (एमसीसी), भाकपा (माले) (पीपुल्सवार) एवं अन्य संगठनों का जिक्र किया गया है। इसमें बताया गया है कि ये सभी पार्टियां 2014 में एक हो गईं। नक्सली संगठन ने कहा है कि फासीवादी कानून लाए जा रहे हैं। सूचना के अधिकार अधिनियम को भी बदला जा रहा है।

यह भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में 1 जुलाई से खुलेंगे स्कूलों के ताले, कल से सड़कों पर दौड़ने लगेगी ऑटो व टैक्सियां... लॉकडाउन में राज्य सरकार देने जा रही बड़ी राहत

ख़बर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए….