फोर्स नहीं होती तो ‘बुधरी’ दुनिया में नहीं होती… मलेरिया से पीड़ित बुजुर्ग महिला को बीमारी का पता ही नहीं था, जवानों ने पहुंचाया अस्पताल

80

बीजापुर @ खबर बस्तर। गंगालूर इलाके के पोंजेर में एक अधेड़ महिला बुदरी मोड़ियाम (49) को पता ही नहीं था कि उसे कौन से रोग ने जकड़ रखा है। सीआरपीएफ के जवान जब सोमवार को उसके घर गए तो पता चला कि बुधरी को मलेरिया हो गया है और उसकी हालत बेहद गंभीर है। जवानों ने उसे तत्काल जिला हाॅस्पिटल भेजकर उसकी जान बचा ली।

यह भी पढ़ें: हार के बाद पार्टी में घटा केदार और गागड़ा का कद ! दंतेवाड़ा व चित्रकोट सीट पर उपचुनाव हेतु शिवरतन और चंदेल बने प्रभारी

यह भी पढ़ें :  भूपेश सरकार पर गरजे गागड़ा, बोले ‘‘छल से पाई है सत्ता’’... युवाओं, किसानों, बेरोजगारों और कर्मचारियों को भ्रम में डाल रखा है कांग्रेसियों ने

सूत्रों के मुताबिक सोमवार को सीआरपीएफ की 85 बटालियन के पोंजेर कैम्प के जवान गश्त पर निकले थे। सहायक कमाण्डेंट राणा अभय सिंह की अगुवाई में गई फोर्स के जवानों ने गांव में जाकर लोगों से मुलाकात की और बच्चों की पढ़ाई के बारे में पूछताछ की। इस दौरान उन्होंने और भी समस्याओं का पता लगाया।

Read More : ‘आसमान से गिरे facebook में अटके’… ‘इसमें तेरा घाटा, मेरा कुछ नहीं जाता’

यह भी पढ़ें :  सिलगेर: आदिवासी समाज के लोग तिम्मापुर में ही रोके गए, खराब माहौल का हवाला देकर लौटा दिया गया

फोर्स को बुधरी मोड़ियाम के बीमार होने का पता चला। जब वे उसके घर गए तो उसे मलेरिया से पीड़ित पाया गया। उसे जवान कैम्प तक साइकिल से लेकर आए और उसे भोजन कराया। उसके परिवार को कपड़ा और छाता दिया गया। इसके बाद गाड़ी से बुधरी को जिला हाॅस्पिटल भेजा गया।


यह भी पढ़ें: थाईलैंड के मशहूर ‘ड्रैगन फ्रूट’ की खेती अब हो रही बस्तर के इस इलाके में…जानिए क्या है ‘ड्रैगन फ्रूट’ और क्यों खास है यह विदेशी फल

यह भी पढ़ें :  झीरम नक्सली हमला: शहीद उदय मुदलियार के बेटे की शिकायत पर FIR दर्ज... हत्याकाण्ड की 7वीं बरसी के बाद दर्ज हुई रिपोर्ट

दरअसल, सीआरपीएफ 85 बटालियन के कमाण्डेंट यादवेन्द्र सिंह यादव एवं द्वितीय कमान अधिकारी हरविंदर सिंह ने जवानों से आसपास के गांवों में जाकर लोगों की खैरियत जानने और मदद करने कहा है। पोंजेर कैम्प के जवान जब भी गांवों की ओर जाते हैं तो वे शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल एवं अन्य सुविधाओं का पता लगाते हैं और लोगों की मदद करते हैं।


ख़बर बस्तर के WhatsApp ग्रुप में जुड़ने के लिए इस Link को क्लिक कीजिए….